Search found 152 matches

by Munira_RV
Mon Jun 10, 2013 12:46 pm
Forum: Bohras and Reform
Topic: दुआत और उनके हुदुद के सीरत की सैर करने वालों के बागीचे
Replies: 4
Views: 2440

Re: दुआत और उनके हुदुद के सीरत की सैर करने वालों के बागीचे

मनाहिल खामिस (पाँच) - नज़्मुद्दीन को जब तमक्कुन हो गया तो फ़िर ऐश व इशरत कि तरफ़ अपनी लगाम फ़िराई। चन्द रोज़ के बाद मौलाना बदरूद्दीन (क़.स.) कि बेवाह बिवी खदीज़ा आई से शादी कि खुद वज़ीरा आई साहिबा मौलाना मुक़द्दस कि वालिदा माज़िदा ने इस अमर कि तवल्ली की। फ़िर आपकी दूसरी बेवाह बिवी रतन आई से शादी की...
by Munira_RV
Mon Dec 17, 2012 4:07 pm
Forum: Bohras and Reform
Topic: दुआत और उनके हुदुद के सीरत की सैर करने वालों के बागीचे
Replies: 4
Views: 2440

दुआत और उनके हुदुद के सीरत की सैर करने वालों के बागीचे

बिस्मिल्लाह हिर रहमान निर रहीम (ए रसूल ओर) कहो कि ह्क़ (सच) आया और बातिल (झूठ) मिट गया, बेशक बातिल मिट हि जाने वाला था। - अल क़ुरान - बनि इस्राइल् किताब का नाम​: खमाइलुर रातेईन लेखक​: शेख अल मुक्कद्दस चाँद​ खान जी रामपुरा वाला ---------------------------------------------------- मुकदमा -------------...